SGPC Akal Takht Jathedar; Punjabi Udaariyaan Serial Shooting Controversy | टीवी सीरियल्स-फिल्मों में नहीं दिखेंगे सिख शादियों के सीन: अकाल तख्त जत्थेदार बोले- गुरुद्वारा सेट और नकली आनंद कारज गलत; SGPC से रिपोर्ट मांगी – Punjab News


पंजाब फिल्म में शादी का फाइल शॉट और श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी रघबीर सिंह।

जल्द ही लोग फिल्मों और टीवी सीरियल्स में आनंद कारज (सिख धर्म में विवाह) के सीन नहीं देख पाएंगे। यह सीन नकली गुरुद्वारा साहिब बनाकर शूट किए जाते थे लेकिन मोहाली में हुई घटना के बाद सिखों के सर्वोच्च तख्त श्री अकाल तख्त साहिब और सर्वोच्च संस्था शिरोमणि

.

अकाल तख्त जत्थेदार ज्ञानी रघबीर सिंह ने इस मामले में SGPC से रिपोर्ट भी मांग ली है। जिसके बाद इसको लेकर अकाल तख्त से आदेश जारी हो सकते हैं। इससे पहले मैरिज पैलेसों में श्री गुरू ग्रंथ साहिब ले जाने पर रोक लगाई जा चुकी है।

बता दें कि मोहाली में पंजाबी टीवी सीरियल उडारियां की शूटिंग चल रही थी। जिसमें नकली गुरुद्वारा साहिब का सेट बनाया गया था। इसका पता चलते ही निहंगों ने वहां हंगामा करते हुए शूटिंग रुकवा दी। जिसके बाद पुलिस वहां आई और मामले को शांत कराया।

मोहाली में बनाया गुरुद्वारा साहिब का सेट और श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी रघबीर सिंह।

मोहाली में बनाया गुरुद्वारा साहिब का सेट और श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी रघबीर सिंह।

अकाल तख्त जत्थेदार की 5 अहम बातें…

1. जत्थेदार ने कहा- व्यापार के लिए सिख परंपराओं से छेड़छाड़
श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी रघबीर सिंह ने मोहाली के घडूआं में नाटक की शूटिंग के दौरान नकली गुरुद्वारा साहिब में नकली आनंद कारज करने की घटना की निंदा की । उन्होंने कहा कि फिल्मी क्षेत्र के लोग अपने व्यापार को मुख्य रखकर सिख परपंराओं से खिलवाड़ कर रहे हैं। अगर वह इन हरकतों से बाज नहीं आए तो श्री अकाल तख्त साहिब को उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी पडे़गी।

2. सिख एक्टर-डायरेक्टर शामिल हुए तो परंपरा के मुताबिक कार्रवाई
वहीं, जो सिख एक्टर या डायरेक्टर या सहायक कर्मी इस घटना में दोषी या सहायक पाए जाएंगे, उनके खिलाफ श्री अकाल तख्त से भी सिख परंपराओं के अनुसार सख्त कार्रवाई की जाएगी। जल्दी ही पंज सिंह साहिबों की मीटिंग कर भविष्य के लिए फिल्मों में श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी की हजूरी दिखाने पर रोक लगाने को लेकर भी सख्त फैसला लिया जाएगा।

3. सिख पंथ पहले ही रोक लगा चुका
श्री अकाल तख्त साहिब सचिवालय द्वारा जारी बयान में ज्ञानी रघबीर सिंह ने कहा कि सिख पंथ ने बहुत पहले ही श्री गुरू ग्रंथ साहिब जी की उपस्थिति में या गुरुद्वारा साहिबों में नकली विवाहों के फिल्मांकन पर प्रतिबंध लगा दिया है। श्री गुरू ग्रंथ साहिब जी की उपस्थिति में नाटकों और नकली विवाह की शूटिंग को कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे।

4. हर धर्मनिष्ठ सिख के मन को गहरी चोट पहुंची अकाल तख्त जत्थेदार ने कहा कि कुछ समय से शिकायतें मिल रही हैं कि फिल्में और टीवी धारावाहिक श्री गुरू ग्रंथ साहिब जी की उपस्थिति में नकली शादियों का फिल्मांकन करने से बाज नहीं आ रहे हैं और नकली गुरुद्वारा साहिब बनाकर नकली आनंद कारज का फिल्मांकन करने की घटना ने हर धर्मनिष्ठ सिख के मन को गहरी चोट पहुंचती है।

उन्होंने कहा कि शूटिंग में आनंद कारज के फिल्मांकन के लिए एक नकली गुरुद्वारा साहिब तैयार किया जाना, सिख परंपराओं के खिलाफ है। घडूआं में गुरुद्वारा साहिब का नकली सेट के अलावा एक्टरों के धूम्रपान करने की भी शिकायत भी मिली है, जो कि पूरी से असहनीय है।

5. एसजीपीसी की रिपोर्ट पर आदेश देंगे
अकाल तख्त जत्थेदार ने कहा कि वह जल्द ही शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी से घडूआं में नकली गुरुद्वारा साहिब तैयार कर आनंद कारज की शूटिंग की पूरी घटना पर रिपोर्ट मांगेंगे। शिरोमणि गुरुद्वारा कमेटी को इसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने का आदेश देंगे।

SGPC के अध्यक्ष एडवोकेट हरजिंदर सिंह धामी।

SGPC के अध्यक्ष एडवोकेट हरजिंदर सिंह धामी।

एसजीपीसी प्रधान बोले, आरोपियों पर करेंगे कार्रवाई
शिरोमणि कमेटी के अध्यक्ष एडवोकेट हरजिंदर सिंह धामी ने फिल्मों और सीरियलों में पैसों की खातिर पवित्र गुरबाणी के अपमान और सिख परंपराओं को ठेस पहुंचाने वाली हरकतों की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि सिख भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाली ऐसी घटनाओं को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

सोशल मीडिया के माध्यम से पता चला है कि चंडीगढ़ के पास घडूआं में धारावाहिक की शूटिंग के लिए तैयार किए गए सेट में श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के प्रकाश की नकल करके आनंद काज का दृश्य फिल्माया गया था, जो कि सिख परंपराओं और शिष्टाचार का उल्लंघन है। हालांकि संगत ने इसे रोकने का साहस किया है, लेकिन पुलिस प्रशासन को दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए।

शिरोमणि कमेटी अध्यक्ष ने कहा कि फिल्मों की शूटिंग के दौरान इस बात का विशेष ध्यान रखा जाना चाहिए कि सिख परंपराओं और सिद्धांतों से किसी भी तरह की छेड़छाड़ न हो। उन्होंने कहा कि यह दुखद है कि कुछ लोग केवल पैसा कमाने के लिए व्यवसायिक हितों के तहत धर्म की परंपराओं का उल्लंघन करते हैं।

शिरोमणि कमेटी अध्यक्ष ने ऐसे लोगों को फटकार लगाते हुए दूर रहने को कहा है। उन्होंने कहा है कि कि इस घटना की रिपोर्ट ली जाएगी ताकि आरोपियों के खिलाफ आवश्यक कार्रवाई की जा सके।

पंजाबी एक्टर निर्मल ऋषि।

पंजाबी एक्टर निर्मल ऋषि।

पंजाब फिल्म एसोसिएशन प्रधान बोलीं- फिल्म इंडस्ट्री का नुकसान
पंजाब फिल्म एसोसिएशन की प्रधान निर्मल ऋषि ने कहा कि मुझे मोहाली में हुई घटना का पूरा तो पता नहीं है लेकिन निहंगों ने कलाकारों के साथ जो मारपीट की और कैमरे तोड़े हैं, वह गलत है। इतना पता चला है कि शूटिंग वाली जगह पर सिर्फ सेटअप लगा था।

वहां श्री गुरू ग्रंथ साहिब का स्वरूप प्रकाश नहीं किया गया था। कलाकारों को प्यार से समझाया जा सकता था। गुरबाणी में गुरू साहिब ने सिर्फ प्यार की भाषा लिखी है न की तलवार उठाने की। इस तरह से यदि फिल्मों में शादी-विवाह के सेटअप पर रोक लगेगी तो कहीं न कहीं फिल्म इंडस्ट्री को नुकसान पहुंचेगा।

मोहाली में हुई घटना से जुड़ी खबर पढ़ें…

पंजाब में निहंगों ने सीरियल की शूटिंग रुकवाई:मोहाली में गुरुद्वारे का नकली सेट देख हंगामा किया; प्रोडक्शन यूनिट बोली- तोड़फोड़ और मारपीट की

पंजाब के मोहाली में पंजाबी सीरियल की शूटिंग के दौरान हंगामा हो गया। शूटिंग में आनंदकारज (सिख धर्म में विवाह) की शूटिंग होनी थी। इसके लिए गुरुद्वारा साहिब का सेट बनाया गया था। जहां प्रतीक के तौर पर निशान साहिब और पालकी साहिब सजाई गई थी।

तभी किसी ने निहंगों को बता दिया कि घंडुआं के अकालगढ़ में बेअदबी की जा रही है। जिसके बाद निहंग वहां पहुंच गए। उन्होंने शूटिंग रुकवा दी। हंगामे का पता चलते ही खरड़ पुलिस वहां पहुंच गई। जहां शूटिंग कर रहे प्रोडक्शन यूनिट ने कहा कि निहंगों ने उनके साथ मारपीट और बदसलूकी की है (पूरी खबर पढ़ें)

Leave a Comment