NEET Scam 2024 Questions Raised on NEET UG Exam all india rank 426 in neet result in 12th board | NEET री-एग्जाम के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका: आरोप- किसी की आंसरशीट फटी मिली, कोई बोर्ड में फेल मगर NEET में 705 नंबर


  • Hindi News
  • Career
  • NEET Scam 2024 Questions Raised On NEET UG Exam All India Rank 426 In Neet Result In 12th Board

6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
9 जून को नई दिल्‍ली में NTA के खिलाफ प्रदर्शन हुआ। - Dainik Bhaskar

9 जून को नई दिल्‍ली में NTA के खिलाफ प्रदर्शन हुआ।

NEET-UG में ग्रेस अंक विवाद अब सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। इस याचिका में रिजल्ट वापस लेने और दोबारा परीक्षा कराने की मांग की गई है। इसमें कहा गया है कि रिजल्‍ट में ग्रेस मार्क्‍स देना NTA का मनमाना फैसला है। स्‍टूडेंट्स को 718 या 719 मार्क्स देने का कोई मैथमेटिकल आधार नहीं है।

ये याचिका स्टूडेंट वेलफेयर के लिए काम करने वाले अब्दुल्लाह मोहम्मद फैज और डॉक्टर शेख रोशन ने दायर की है। ये दोनों आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में स्टूडेंट्स के लिए काम करते हैं।

ग्रेस मार्क्स के खिलाफ दायर की गई याचिका
याचिका में कहा गया है कि NTA ने अब तक ये नहीं बताया कि उन्होंने स्टूडेंट्स को ग्रेस मार्क्स देने के लिए क्या तरीका अपनाया है। वहीं, एग्जाम के पहले NTA की तरफ से जारी की गई इन्फॉर्मेशन बुलेटिन में भी ग्रेस मार्क्स देने के प्रावधान का जिक्र नहीं किया गया था। ऐसे में कुछ कैंडिडेट्स को ग्रेस मार्क्स देना सही नहीं है।

एग्जाम में मार्क्स मिसमैच की नई शिकायतें आ रहीं
उधर एग्जाम में गड़बड़ी की नई शिकायतें सामने आ रही हैं। सोशल मीडिया पर एक यूजर ने अंजली नाम की एक स्टूडेंट की NEET UG और 12वीं बोर्ड एग्जाम की मार्कशीट शेयर की है। इसके मुताबिक 12वीं में फेल हुई स्टूडेंट को NEET में 705 मार्क्स मिले हैं। भोपाल की एक स्टूडेंट का कहना है कि उसके स्कोरकार्ड में 340 नंबर हैं जबकि आंसर की मिलाने पर उसे 617 नंबर मिलने चाहिए। इसी तरह लखनऊ की आयुषी पटेल का आरोप है की उसकी OMR शीट जानबूझकर फाड़ी गई।

स्‍टूडेंट का कहना- मेरी आंसरशीट फाड़ी गई
X पर ही लखनऊ की आयुषी पटेल ने अपना वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में आयुषी ने बताया कि जब 4 जून को रिजल्ट आया, तब उनका रिजल्ट साइट पर जनरेट नहीं हुआ था। उन्हें लगा कि ये शायद सर्वर की कोई समस्या है, क्योंकि 23 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स इसका रिजल्ट चेक कर रहे होंगे।

24 घंटे में NTA की तरफ से मिली डैमेज्ड OMR शीट की फोटो
24 घंटे के भीतर ही उन्हें NTA की तरफ से एक मेल आया। इस मेल में लिखा था – कैंडिडेट की OMR शीट डैमेज्ड है, इस वजह से आपका रिजल्ट जारी नहीं किया गया है। उन्होंने उसी शाम यानी 24 घंटे के भीतर ही उसी मेल पर रिप्लाई किया और एक फैक्स मेल भी भेजा कि उन्हें उनकी डैमेज्ड OMR शीट भेज दी जाए।

NTA ने उसी मेल पर OMR शीट की फोटो भेजी, जिसमें सारे आंसर साफ दिखाई दे रहे थे। छात्रा ने कहा OMR शीट पूरी तरह डैमेज्ड थी और इसका QR देखकर लग रहा था जैसे जानबूझकर फाड़ा गया हो।

12वीं बोर्ड एग्जाम में फेल, NEET में 705 मार्क्स
एक यूजर प्रतीक आर्यन ने अपने ट्वीट में एक स्‍टूडेंट अंजली पटेल की बोर्ड मार्कशीट और NEET स्‍कोरकार्ड शेयर किए हैं। बोर्ड मार्कशीट में अंजली फिजिक्‍स और केमिस्‍ट्री में फेल हैं जबकि NEET रिजल्‍ट में उन्हें 720 में से 705 मार्क्स मिले हैं।
इससे ये सवाल उठता है कि अगर किसी के बोर्ड एग्जाम में नंबर कम हैं, तो वो कैंडिडेट NEET UG जैसे ऑल इंडिया लेवल पर होने वाले एंट्रेंस एग्जाम में इतने मार्क्स कैसे ला सकता है, जहां कॉम्पिटिशन किसी बोर्ड या स्कूल से नहीं बल्कि 23 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स से है।

आंसर की मिलाने पर 617 नंबर, रिजल्‍ट में मिले 340
भोपाल मध्‍य प्रदेश से निषिता सोनी ने भी जबलपुर हाईकोर्ट में पिटीशन दायर की है। निषिता के पिता ने दैनिक भास्कर को बताया कि निषिता ने जब 30 मई को आंसर की जारी होने के बाद आंसर्स मिलाए, तो उसके हिसाब से उनके मार्क्स 617 थे। वहीं जब 4 जून को फाइनल स्कोर कार्ड आया तो उसमें मार्क्स आधे यानी 340 आए हैं।

निषिता का कहना है कि उन्होंने NEET UG में 159 सवालों के सही उत्तर दिए हैं। 19 के जवाब गलत थे। उनका स्कोर 617 होना चाहिए।

निषिता का कहना है कि उन्होंने NEET UG में 159 सवालों के सही उत्तर दिए हैं। 19 के जवाब गलत थे। उनका स्कोर 617 होना चाहिए।

ग्रेस मार्क्स नहीं मिलने के खिलाफ दायर की याचिका
8 जून को राजस्थान की तनुजा ने भी राजस्थान हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। उनका कहना है कि उन्हें OMR शीट देर से दी गई थी और जल्दी वापस ले ली गई थी। इसके बावजूद उन्हें किसी भी तरह के ग्रेस मार्क्स नहीं दिए गए हैं।
दिल्ली हाईकोर्ट में NTA के खिलाफ लगाई गई एक पिटीशन का दिल्ली हाईकोर्ट ने NTA से जवाब भी मांगा है कि एक सवाल के दो जवाब कैसे हो सकते हैं।

NEET UG 2024 को लेकर छात्रों के सवाल

एक ही परीक्षा सेंटर पर 6 टॉपर कैसे
NEET टॉपर्स की मेरिट लिस्ट में 8 छात्रों के रोल नंबर एक ही सीरीज के हैं। सीरियल नंबर 62 से लेकर 69 तक कुल 8 छात्र में से 6 छात्रों ने रैंक-1 हासिल की। इन सभी को 720 में से 720 अंक मिले। इन सभी ने बहादुरगढ़ स्थित एक ही एग्जाम सेंटर पर परीक्षा दी थी।

कैसे 718, 719 नंबर मिले
कई छात्रों को 718, 719 अंक दिए गए। NTA ने कहा था कि उन्हें ये अंक ग्रेस मार्क्स के तौर पर दिए गए हैं। दरअसल, नीट का पेपर 720 अंक का होता है। हर सवाल के चार अंक मिलते हैं। हर गलती के एक अंक कटते हैं। अब ऐसे में यदि कोई सिर्फ एक सवाल छोड़ देता है तो उसे 716 अंक मिलेंगे। यदि कोई सिर्फ एक सवाल गलत करता है तो उसे 715 अंक मिलेंगे। ऐसे में 718, 719 अंक पाना असंभव है।

ग्रेस मार्क्स बिना जानकारी के क्यों लागू हुआ
छात्रों का कहना है कि बिना जानकारी के ग्रेस मार्क्स क्यों दिए गए? छात्र बिना ग्रेस मार्क्स के NEET की ओरिजिनल मेरिट लिस्ट जारी करने की मांग कर रहे हैं। छात्रों की मांग ये भी है कि जिन सेंटरों पर ग्रेस मार्क्स दिए गए हैं, उनका नाम बताया जाए।

ग्रेस मार्क्स पाने का आधार क्या
छात्रों का ये भी पूछना है कि ग्रेस मार्क्स पाने का आधार क्या है? कितना समय बर्बाद होने पर कितने नंबर दिए गए?

NTA ने दिए थे शिकायतकर्ताओं के जवाब
NEET रिजल्ट पर गड़बड़ी के आरोप लगने के बाद NTA ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर शिकायतकर्ताओं के सवालों के जवाब दिए थे।

NEET रिजल्ट पर गड़बड़ी के आरोप लगने के बाद से ही इस पर राजनीति भी शुरू हो गई। कांग्रेस नेता के.सी. वेणुगोपाल ने 8 जून को लोक सभा को एक पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने NEET 2024 की निष्पक्ष जांच करने की मांग की है। इसके बाद 9 जून को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी एक्स पर लिखा था कि शिक्षा माफियाओं से निपटना बेहद जरूरी है। इसकी निष्पक्ष जांच होनी चाहिए।

2015 में कैंसिल हो चुका है मेडिकल एंट्रेंस एग्‍जाम
साल 2015 में भी पेपर लीक की खबर फैली थी, आरोप थे कि कई एग्जाम सेंटर्स पर इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज के जरिए स्टूडेंट्स को क्वेश्चन पेपर के आंसर (Answer Key) भेज दिए गए थे। हालांकि, तब NEET नहीं बल्कि AIPMT ऑल इंडिया प्री मेडिकल टेस्ट होता था। कोर्ट ने मामले पर फैसला दिया कि एग्जाम कैंसिल किया जाए और परीक्षा 4 हफ्ते में दोबारा ली जाए।

खबरें और भी हैं…

Leave a Comment